राजस्थान राज्य सरकार की बड़ी घोषणा, अब राशन में गेहूं की जगह मिलेगा बाजरा Rajasthan Khadya Suraksha Yojana New Rules खाद्य सुरक्षा विभाग ने किया बड़ा बदलाव 2024

Rajasthan Khadya Suraksha Yojana New Rules

Rajasthan Khadya Suraksha Yojana New Rules – राजस्थान राज्य सरकार की बड़ी घोषणा, अब राशन में गेहूं की जगह मिलेगा बाजरा। यदि आप भी राजस्थान के मुलनिवास है और आप के पास राशनकार्ड है, तो आप सभी के लिए राशन कार्ड से जुड़ा बड़ा अपडेट आया है जिसमे अगर आपको राशन कार्ड से गेहूं मिल रहा है तो अब आपको गेंहू नही मिलेगा। क्योंकि राजस्थान की वर्तमान सरकार के द्वारा बड़ा बदलाव किया जा रहा है। अधिक जानकारी के लेख को पूर्ण पढ़े।

राजस्थान की वर्तमान सरकार के द्वारा की गयी घोषणा के अनुसार राज्य के सभी राशन कार्ड धारको को अगले महीने से राशन में मिलने वाली गेंहू की जगह श्रीअन्न देने की घोषणा की गयी है। आप को बता दे की-अब आपको सरकार द्वारा गेहूँ की जगह पर बाजरा दिया जाएगा राजस्थान राज्य में लगभग 4.46 करोड़ लोगों को खाद्य सुरक्षा योजना के माध्यम से प्रतिमाह, प्रति व्यक्ति 5 किलों फ्री राशन मिलता है। अब सरकार के द्वारा राशन में मिलने वाली गेंहू की जगह बाजरा वितरण करने का निर्णय लिया गया है।

Rajasthan Khadya Suraksha Yojana New Rules क्या है?

राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना के नए नियमों को जानने से हले आप सभी को सबसे पहले राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना के बारे में जानना चाहिए, क्योंकि राजस्थान सरकार के द्वारा जो बदलाव किये जाएँगे वो सिर्फ राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना का लाभ प्राप्त कर रहें लाभार्थियों तक सिमित रहेंगें आप को बता दे की राजस्थान सरकार के द्वारा सम्पूर्ण राज्य में खाद्य सुरक्षा योजना के माध्यम से लगभग 4.46 करोड़ नागरिकों को प्रतिमाह, प्रति व्यक्ति 5 किलों फ्री राशन प्रदान किया जाता है। इस योजना के मुख्य तथ्यों को आप निचे सारणी में लिखे विवरण के माध्यम से समझ सकते हो।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
विषय -वस्तुविवरण
योजना का नामराजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना / Rajasthan Khadya Suraksha Yojana (NFSA)
देशभारत
संगठनखाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग राजस्थान सरकार / Rajasthan Food and Civil Supplies Department Government of Rajasthan
लाभार्थीराजस्थान के मूल निवासी राशनकार्ड धारक परिवार
लाभप्रतिमाह, प्रति व्यक्ति 5 किलों फ्री राशन
आवेदन प्रकारऑनलाइन
योजना की शुरुआतअक्टूबर 2013
Official Website https://food.rajasthan.gov.in/
Join Our WhatsApp ChannelJoin Now
Join Our Telegram ChannelJoin Now
Follow us on Google News Follow Now
Rajasthan Khadya Suraksha Yojana New Rules

क्यों किये गए राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना में बदलाव?

बाजरा के उत्पादन में राजस्थान देश का नंबर वन राज्य है भारत में कुल उत्पादन होने वाले बाजरे का 85% उत्पादन सात राज्यों में होता है। इनमें राजस्थान, कर्नाटक, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और मध्य प्रदेश शामिल है। इन सात राज्यों में भी सर्वाधिक बाजरा उत्पादन करने वाला राज्य राजस्थान है।

राजस्थान की मिट्टी और यहां की जलवायु बाजरे की खेती के लिए सबसे बेहतर है। यही वजह है कि राजस्थान बाजरे का सर्वाधिक उत्पादन होता है। एग्रीकल्चर स्टेट बोर्ड के आंकड़ों के मुताबिक देश में कुल उत्पादित होने वाले बाजरे का 28.6 फीसदी उत्पादन राजस्थान में होता है राजस्थान में बाजरे का उत्पादन करीब 50 लाख मीट्रिक टन होता है।

राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना में श्रीअन्न क्या है?

आप सभी को बता दे की श्रीअन्न को राजस्थान में बाजरा के नाम से जाना जाता है। तो आपको राजस्थान सरकार अब राशन में गेहूं की जगह बाजरा देने की योजना बना रही है और सीएम भजनलाल के द्वारा खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग को इसका प्रस्ताव भेजा गया है।

Rajasthan Khadya Suraksha Yojana New Rules

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के द्वारा खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग को भेजे गए इस प्रस्ताव को लेकर अभी काफी चर्चा हो रही है। समर्थन मूल्य पर खरीदे गए बाजरे को नवंबर दिसंबर और जनवरी में खाद्य सुरक्षा योजना से जुड़े लाभार्थियों को मुफ्त में गेहूं के बदले बाजरा दिया जाएगा।

इसके लिए सरकार जल्द ही बजट सत्र में बाजरे की खरीद की घोषणा कर सकती है हाल ही में राजस्थान की भजनलाल सरकार ने किसानों को आर्थिक तौर पर मजबूती देने के लिए किसान सम्मान निधि योजना के तहत 6000 रुपए से बढ़कर ₹8000 कर दिए हैं। वही राजस्थान की सरकार के द्वारा किसानों को मुफ्त बीजों के कीट प्रदान कर रही है।

Rajasthan Khadya Suraksha Yojana New Rules

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा मोटे अनाज की खेती को बढ़ावा देने और किसने की आय में वृद्धि करने के उद्देश्य से सरकार ने योजना को धरातल पर उतारा है इस योजना के तहत ज्वार, बाजरा, रागी और जो जैसे मोटे अनाज की बुवाई पर जोर दिया है।

राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना में गेंहू के बदले बाजरा ही क्यों दिया जाएगा?

राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना में गेंहू के बदले बाजरा ही क्यों दिया जाएगा? क्योंकि बाजरे के उत्पादन में राजस्थान भले ही पहले स्थान पर हो, लेकिन यहां की सरकारों ने अब तक समर्थन मूल्य पर बाजरे की खरीद शुरू नहीं की, और समर्थन मूल्य पर बाजरे की खरीद सभी सिर्फ हरियाणा राज्य में ही हो रही है।

बाजरे का समर्थन मूल्य 2625 रुपए प्रति क्विंटल है। राजस्थान में समर्थन मूल्य पर खरीद नहीं होने पर किसानों को सस्ते दामों पर बाजरा बेचना पड़ता है। हरियाणा में भले ही समर्थन मूल्य पर बाजरे की खरीद होती हो लेकिन राजस्थान के बाजरे की खरीद पर कई बार रोक लगाई जा चुकी है।

राजस्थान खाद्य सुरक्षा योजना में गेंहू के बदले बाजरा कब मिलेगा?

सरकार के द्वारा मुफ्त राशन के रूप में बाजरे / श्रीअन्न का वितरण नवंबर, दिसंबर 2024

Leave a Comment