PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana 2024, क्या है ? केंद्र सरकार की नई स्कीम से मछुआरों और किसानों को सस्ते लोन, 1.7 लाख तक की नौकरियां

PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana केंद्र सरकार ने मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए एक नई योजना के रूप में प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना को मंजूरी प्रदान कर दी गई है ,प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना से देश में किसानो तथा मछुआरों को सरकार द्वारा आसान किस्तों में ऋण दिया जाएगा , ये योजना प्रधान मंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (PMMSY) की केद्रीय उप -योजना के रूप में कार्य करेगी |

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana के लिए कुल 6000 करोड़ रूपये से अधिक के निवेश को मंजूरी प्रदान कर दी है | प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से देश के सभी राज्यों में असंगठित मत्स्य पालन क्षेत्र को औपचारिक बनाने, सूक्ष्म और लघु उद्यमों को ऋण प्रदान कराने जैसे कार्यो के लिए केंद्र सरकार अगले चार वर्षो तक 6000 करोड़ रूपये से अधिक के निवेश प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना में करेगी

PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana क्या है

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना केंद्र सरकार की पहले से चलाई जा रही योजना प्रधान मंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (PMMSY) की सहायक योजना के रूप में कार्य करेगी तथा इस योजना में कुछ नये सूधार किए गए है प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना PM-MKSSY के माध्यम से भारत देश के सभी राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशो को इस योजना का लाभ दिया जाएगा |

PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana के माध्यम से केंद्र सरकार 4 वर्षो के लिए मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए 6000 करोड़ रूपये का निवेश करके देश में 1.70 लाख से अधिक नयी नौकरियों का अवसर प्रदान करेगी | जिससे बेरोजगार लोगो को रोजगार के अधिक अवसर प्राप्त होंगे |

विषयवस्तुविवरण
योजना का नामPM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana / प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना
देशभारत
योजना की घोषणा09 फरवरी 2024
योजन में निवेशकुल 6000 करोड़ वित्त वर्ष 2023-24 से वित्त वर्ष 2026-27 तक
लाभार्थीभारत देश के सभी राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश
लाभ1.70 लाख से अधिक नयी नौकरिया तथा मत्स्य पालन के लिए ऋण
आवेदन प्रकारऑनलाइन
योजना की श्रेणीसरकारी योजना
अधिकारिक वेबसाइटhttps://pmmsy.dof.gov.in/
PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana के लाभ

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के बहुत से लाभ है , आप को बता दे की केंद्र सरकार प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के लिए अगले चार सालो में 6 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश करने की योजना बना रही है जिससे देश के बेरोजगार लोगो को रोजगार के अधिक अवसर प्राप्त होंगे तथा मत्स्य पालन से देश के किसानो को अधिक लाभ मिलेगा ,और अधिक लाभ आप निचे दी गई जानकारी को पढ़ सकते है |

  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से मछुआरों, मछली विक्रेताओं और मत्स्य पालन क्षेत्र में सूक्ष्म और लघु उद्यमों की आय को बढाया जा सकता है |
  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से मछली उत्पादों के लिए घरेलू बाजार को और अधिक विस्तृत स्वरूप प्रदान किया जएगा |
  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से जलीय कृषि और मत्स्य पालन जैसे कार्यो की जोखिमों को कम किया जाएगा है |
  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से केंद्र सरकार झींगा फ़ीड के लिए आवश्यक कुछ सामग्रियों पर आयात शुल्क में कटौती की घोषणा करने से उत्पादन लागत और आयात लागत कम होने का अनुमान है, जो जलीय कृषि निर्यात को प्रोत्साहित और बढ़ावा देने का कार्य करेगा |
  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से 6.4 लाख माइक्रो एंटरप्राइजेज और 5500 फिशरीज को-ऑपरेटिव्स को भी फाइनेंशियल सपोर्ट मिलेगा |
  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से केंद्र सरकार अगले चार वर्षो के लिए 6 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश करके 1.70 लाख से अधिक नयी नौकरियों का रास्ता खोले गई , जससे रोजगार के अवसरों में बढ़ोत्तरी होगी |
  • साथ ही केंद्र सरकार प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से 70000 से ज्यादा महिलओं को नौकरियां प्रदान करेगी |

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना की पात्रता

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना की पात्रता प्राप्त करने के लिए आवेदकों को केंद्र सरकार के द्वारा चिन्हित क्षेत्रों से होना चाहिए | चिन्हित क्षेत्रों का विवरण निचे लिखा है ,साथ ही आवेदक को अपने नजदीकी मत्स्य विभाग के कार्यालय में जाकर अपने आवेदन समन्धित विचारो पर चर्चा की जा सकती है |

  • आवेदक किसान मूल रूप से भारत देश का निवासी होना चाहिए |
  • आवेदक किसान जलीय कृषि क्षेत्र से आवेदन कर सकता है या होना चाहिए |
  • आवेदक मछुआरा हो सकता है |
  • आवेदक मछली पालक हो सकता है |
  • आवेदक मछली विक्रेता या श्रमिक हो सकता है |
  • अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के आवेदकों को प्राथमिकता दी जाएगी |
  • महिलाऔर दिव्यांग आवेदकों को प्राथमिकता दी जाएगी |
  • साथ ही मछली पालन कार्य से समन्धित सभी सरकारी या गैरसरकारी क्षेत्रों के आवेदकों को प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना पात्र माना जाएगा |

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के लिए दस्तावेज

PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana में आवेदन करने के लिए आवेदक को आवश्यक दस्तावेजों का विवरण निचे विस्तार से लिखा है |

  • आवेदन कर्ता का आधार कार्ड |
  • आवेदन कर्ता का मूल निवास प्रमाण पत्र |
  • आवेदन कर्ता का जाती प्रमाण पत्र |
  • आवेदन कर्ता के बैंक खाता समन्धित दस्तावेज |
  • अवदान कर्ता के मोबाइल नंबर |
  • और आवेदन कर्ता को अपने मत्स्य पालन क्षेत्र से समन्धित दस्तावेज जैसे – भूमि ,उधोग , व्यापार स्थल इतियादी के जानकारी समन्धित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी |

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना आवेदन कैसे करे

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक को अपने जिले के मत्स्य विभाग के कार्यालय में जाना होगा तथा अपने कार्य क्षेत्र के आधार पर कार्यालय में उस्थित अधिकारी से बात करे तथा अपना आवेदन फॉर्म जमा करा सकते है |

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना की विशेषताए

  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से जलीय कृषि और मत्स्य पालन जैसे कार्यो की जोखिमों को कम किया जाएगा है |
  • प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से केंद्र सरकार अगले चार वर्षो के लिए 6 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश करके 1.70 लाख से अधिक नयी नौकरियों का रास्ता खोले गई , जससे रोजगार के अवसरों में बढ़ोत्तरी होगी |
  • साथ ही केंद्र सरकार प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से 70000 से ज्यादा महिलओं को नौकरियां प्रदान करेगी |
  • सहायता और मछली उत्पादों का निर्यात करने के लिए प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना के माध्यम से मछली उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए कोल्ड चेन, मछली प्रसंस्करण इकाइयों और पैकेजिंग सुविधाओं के विकास के लिए सहायता प्रदान करती है |
  • साथ ही केंद्र सरकार मछली पलकों को बिज भी प्रदान करती है |

PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana क्या है ?

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना एक सहायक योजना के रूप में शुरू की जाएगी |

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना किस योजना की उप योजना है ?

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना प्रधान मंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (PMMSY) की उप योजना है |

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना की घोषणा कब हुई है ?

08 फरवरी 2024 को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने PM-MKSSY Matsya Kisan Samriddhi Saha Yojana के लिए कुल 6000 करोड़ रूपये से अधिक के निवेश को मंजूरी प्रदान कर दी है | 2023 में घोषणा की गई थी |

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना की पात्रता किस -किस को प्राप्त है ?

प्रधान मंत्री मत्स्य किसान समृद्धि सह-योजना की पात्रता प्राप्त करने के लिए आवेदकों को केंद्र सरकार के द्वारा चिन्हित क्षेत्रों से होना चाहिए | चिन्हित क्षेत्रों का विवरण निचे लिखा है ,साथ ही आवेदक को अपने नजदीकी मत्स्य विभाग के कार्यालय में जाकर अपने आवेदन समन्धित विचारो पर चर्चा की जा सकती है | ज्यादा जानकारी के लिए लेख को पढ़ सकते हो |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top